Shikha
5 minutes
share
upper thumbnail

भोजीपुरा के पीपलसाना गांव के पास जंगल में आवारा गाय पशु तस्करों को पकड़ना मुश्किल हुआ। पशु प्रेमी जाहिद ने एक गाय को जाल डालकर पकड़ते हुए देखा, वह पशु तस्करों से भिड़ गया। फोन कर गांव वालों को बुला लिया। इतना ही नहीं कुछ ही देर में पुलिस भी पहुंच गई। फिर तो पुलिस ने चारों पशु तस्करों की जमकर धुनाई लगाई। जाल से गाय को मुक्त कराया। चारों पशु तस्कर गिरफ्तार कर लिए गए। 

भोजीपुरा के रहने वाले जाहिद आज से नहीं कई सालों से गायों के संरक्षण को समर्पित है। पशुओं से अधिक प्रेम करने वाले जाहिद ने पीएफए के साथ रहकर पशु प्रेम सीखा। जाहिद का कहना है, सोमवार की सुबह- सुबह मॉर्निंग वॉक को निकले तो जंगल में चार लोग जाल डालकर आवारा एक गाय को पकड़ रहे थे। उसने पशु तस्करों को ललकारा। वह अकेला था। पशु तस्कर कई थे। उसने उन तस्करों से मुकाबला किया। फोन से पुलिस को सूचना दे दी।

upper thumbnail

पशु तस्करों से गाय को छुड़ाने के लिए अकेला भिड़ा पशु प्रेमी, पुलिस और ग्रामीणों को बुलाकर जंगल में की धुनाई

गांव से काफी लोगों को बुला लिया। पशु तस्करों ने धमकी भी दी। उसने गाय की जान बचाने के लिए हर प्रयास किया और गाय को पशु तस्करों से बचा लिया। सूचना मिलते ही गांव से काफी लोग पहुंच गए। पशु तस्करों को घेर लिया गया। कुछ ही देर में पुलिस भी पहुंच गई। जाल काटकर गाय को मुक्त कराया गया। वहीं जंगल में ही तस्करों की जमकर धुनाई की गई। चारों पशु तस्कर भोजीपुरा इलाके के ही रहने वाले बताए जा रहे हैं। पशु तस्करों ने हाथ जोड़े। माफी मांगी। भविष्य में अब कभी गाय को नहीं पकड़ेंगे। पुलिस ने उनके खिलाफ कार्रवाई की है। जेल भेजने की तैयारी चल रही है।

Shikha
share
Comments (0)
New Blog
New Gallery