Rafales photos : france se long journey kr reach in india rafale jet viman , picture hai very shandaar

jyoti S
5 minutes
share
upper thumbnail

नई दिल्ली: मेरिगनेक एयरबेस से उड़ान भरने के बाद यूएई में अल धफरा एयरबेस पर विमानों का जत्था उतरा था। यह फ्रांस से भारत के लिए उड़ान के दौरान एकमात्र पड़ाव था। फ्रांस से भारत के लिए 8500 किमी की दूरी तय करने के बाद, भारतीय वायुसेना के राफेल विमान ने 29 जुलाई, 2020 को वायु सेना स्टेशन अंबाला पहुंचे।

भारत में राफेल लड़ाकू विमानों का पहला बैच पहुंचा है, यह सबसे बहुप्रतीक्षित घटनाओं में से एक था और निश्चित रूप से राष्ट्र को गौरवान्वित किया है। पहले पांच राफेल्स ने फ्रांस से उड़ान भरी, भारत में लगभग 8500 किमी की यात्रा की और 29 जुलाई, 2020 को वायु सेना स्टेशन अंबाला पहुंचे।

इनका शानदार स्वागत हुआ क्योंकि इससे निश्चित रूप से आकाश पर भारत की शक्ति मजबूत हुई है और पड़ोसियों के लिए इसका आना परेशानी का सबब बना है।

वायु सेना प्रमुख, एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया, एयर ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ वेस्टर्न एयर कमांड, एयर मार्शल बी सुरेश और एयर ऑफिसर कमांडिंग एयर फोर्स स्टेशन अंबाला ने वायुसेना में आए पहले राफेल विमानों के पायलटों के साथ तस्वीर खिंचवाई। (Pic Credit: IAF)

राफेल विमान ने सोमवार 27 जुलाई को फ्रांस के बोर्दो में मेरिगनेक एयरबेस से उड़ान भरी और मिडएयर रीफ्यूलिंग की मदद से 7000 किमी की दूरी तय करने के लिए 7 घंटे तक नॉनस्टॉप उड़ान भरी। आखिरकार, संयुक्त अरब अमीरात में अल धफरा एयरबेस पर देर शाम लड़ाकू विमान उतरे। बुधवार को फ्रांसीसी फाइटर जेट्स भारत के लिए यूएई से रवाना हुए। (Pic Credit: IAF)

राफेल विमान ने सोमवार 27 जुलाई को फ्रांस के बोर्दो में मेरिगनेक एयरबेस से उड़ान भरी और मिडएयर रीफ्यूलिंग की मदद से 7000 किमी की दूरी तय करने के लिए 7 घंटे तक नॉनस्टॉप उड़ान भरी। आखिरकार, संयुक्त अरब अमीरात में अल धफरा एयरबेस पर देर शाम लड़ाकू विमान उतरे। बुधवार को फ्रांसीसी फाइटर जेट्स भारत के लिए यूएई से रवाना हुए। (Pic Credit: IAF)

 

jyoti S
share
New Blog
New Gallery